Home Universities कुलपति हो तो ऐसा... CM योगी से अपने खिलाफ ही की CBI जांच की सिफारिश

कुलपति हो तो ऐसा... CM योगी से अपने खिलाफ ही की CBI जांच की सिफारिश

EduBeats

फैजाबाद

अगर कोई अपने ही कामों की सीबीआई जांच की मांग करें तो आपको भरोसा नहीं होगा लेकिन यह बात बिल्कुल सही है। हम अयोध्या के डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की बात कर रहे हैं। दरअसल, विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. मनोज दीक्षित ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपने कार्यकाल में हुए सभी कार्यों की सीबीआई जांच कराए जाने की मांग उठाई है। उन्होंने रविवार को डीएम को इस संबंध में पत्र भी सौंप दिया है।


 

बता दें कि पिछले कई दिनों से विश्वविद्यालय प्रशासन ने कई कर्मचारियों को हटा दिया था। प्रशासन की इस कार्रवाई से नाराज कर्मचारियों ने आंदोलन शुरू कर दिया। कर्मचारी चार दिसंबर से हड़ताल पर बैठे हैं। पांच दिसंबर को कर्मचारी परिषद ने एक पत्र जारी कर कुलपति पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर जांच कराने की मांग उठाई।
 

कर्मचारी परिषद की इस आरोप लगाने के बाद कुलपति मनोज दीक्षित ने खुद ही डीएम अनुज कुमार झा को पत्र भेजा है। कुलपति ने इस पत्र में लिखा है कि मुख्यमंत्री के स्तर पर कर्मचारी परिषद द्वारा उठाए गए 23 बिंदुओं की न्यूनतम सीबीआई जांच कराई जाए। अगर कर्मचारी परिषद उक्त बिंदुओं पर जांच से मुकरते हैं तो परिषद के संबंधित पदाधिकारियों के विरुद्ध कड़ी अनुशासनात्मक एवं विधिक कार्रवाई भी की जाए।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT