Home Universities पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति ने गोद लिए 50 गांव

पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति ने गोद लिए 50 गांव

EduBeats

जौनपुर 
पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के कुलपति ने नई पहल करते हुए जौनपुर के आसपास जिले के 50 गांव को गोद लिए हैं। साथ ही कैंपस में आईएएस आईपीएस का सपना देख रहे युवाओं के लिए फ्री कोचिंग की पहल की है।  प्रोफेसर डॉ. राजाराम यादव मई 2017 से इस यूनिवर्सिटी के कुलपति पद पर हैं।  


वीसी ने बताया किम विश्वविद्यालय के आसपास के जिले के लोग काफी गरीब और पिछड़े हैं। इसको ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय में आईएएस, पीसीएस की निशुल्क कोचिंग चलाई जाती है, जिनमें गरीब और आार्थिक रूप से कमजोर बच्चों को प्रवेश दिया जाता है। इस कोचिंग में जाने-माने एवं प्रतिष्ठित विशेषज्ञ क्लास लेते हैं।  


डॉ यादव कहते हैं कि मैंने आसपास के गांवों में ऐसा पाया कि वहां अभी विकास पूरी तरह नहीं पहुंच पाया है। इसलिए मैंने गांवों को अपनाकर यहां स्वास्थ्य शिविर लगाकर सभी के स्वास्थ्य परीक्षण कराना, कुपोषित बच्चों को दवा एवं पौष्टिक आहार देना, गांव के लोगों की टीवी जैसी अन्य असाध्य बीमारियों की जांच करा कर उनका समुचित इलाज कराने के साथ-साथ उनकी देखभाल करने का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा यहां बच्चे स्कूल जाएं उसकी पूरी व्यवस्था करना और उनके माता-पिता को जागरूक करना विश्वविद्यालय की प्राथमिकता में है। विश्वविद्यालय के अध्यापक और अधिकारी भी बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए काम करने के लिए आगे आए हैं। 


शोधार्थियों के किसी प्रकार की दिक्कत ना आए इसके लिए इस संस्थान में अत्याधुनिक उपकरणों को लगाया गया है जो कि देश के बड़े-बड़े केंद्रीय शोध संस्थाओं तक ही सीमित माने जाते रहे हैं। वीसी ने इसके अलावा दो महत्वपूर्ण रिसर्च सेंटर (नैनो साइंस एंड टेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर वैकल्पिक ऊर्जा सेंटर) स्थापित किए।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT