Home News लखनऊ: एकेटीयू में हुआ दीक्षांत समारोह का आयोजन, मेधावियों को किया गया सम्मानित

लखनऊ: एकेटीयू में हुआ दीक्षांत समारोह का आयोजन, मेधावियों को किया गया सम्मानित

लखनऊ
बुधवार को डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में 17वें दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में एकेजी कॉलेज, गाजियाबाद की बीटेक कंप्यूटर साइंस की छात्रा साक्षी सिंह को चांसलर मेडल से नवाजा गया। साक्षी के साथ 62 विद्यार्थियों को भी पीएचडी, रजत व कांस्य पदक, 66 मेधावियों को स्वर्ण, और 58,699 विद्यार्थियों को उपाधि दी गई। 

 

समारोह के दौरान अपने वक्तव्य में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि मेरे पिता ने कभी बाल-विवाह को बढ़ावा नहीं दिया और इसके बाद भी मेरे बड़े भाई अपने 12वीं में पढ़ रहे लड़के की शादी करने जा रहे थे। जब मुझे जानकारी हुई तो मैंने शादी करने से मना कर दिया लेकिन जब वो मेरी बात नहीं माने तो मैं खुद थाने गई और इसकी शिकायत की। वहां से पुलिस आई और मेरे भतीजे का बाल विवाह रुकवाया। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने सभी से अपील करते हुए कहा कि कभी भी बच्चों का बाल विवाह न करें। जहाँ हो रहा हो, उसका विरोध करें।

 

इस समारोह में पहली बार 30 स्कूली बच्चे भी शामिल हुए और इन्हें राज्यपाल के द्वारा सम्मानित किया गया। आपको बता दें कि दीक्षांत समारोह में शामिल होने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया गया तथा इस दीक्षांत समारोह में 1,184 विद्यार्थी शामिल हुए। इससे पहले मंगलवार को कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक के नेतृत्व में जानकीपुरम विस्तार स्थित परिसर में दीक्षांत समारोह का पूर्वाभ्यास किया गया। साथ ही इसमें विद्या परिषद, कार्य परिषद के सदस्य व डीन शामिल हुए। सुबह 11 बजे से विश्वविद्यालय के अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में होने वाले दीक्षांत समारोह की अध्यक्षता राज्यपाल व कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल ने की। मुख्य अतिथि के रूप में जल पुरुष राजेंद्र सिंह उपस्थित रहे, उन्हें विश्वविद्यालय की ओर से डीलिट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी व प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा राधा एस चौहान विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT