Home School कोरोनावायरस: बढ़ानी है इम्युनिटी? CBSE ने बताए आपके लिए ये 10 तरीके

कोरोनावायरस: बढ़ानी है इम्युनिटी? CBSE ने बताए आपके लिए ये 10 तरीके

EduBeats

कोरोनावायरस (Covid-19) के संक्रमण से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ जरूरी है कि आपकी इम्युनिटी भी बेहतर हो। इम्युनिटी यानी किसी बीमारी, वायरस, बैक्टीरिया से लड़ने के लिए आपके शरीर की आंतरिक ताकत। कोरोना महामारी से जूझते इस वक्त में हम सभी के लिए अपनी सेहत अच्छी रखना बेहद जरूरी है। इसका सबसे अच्छा तरीका है अपनी इम्युनिटी बढ़ाना। लेकिन वो कैसे कर सकते हैं?
सोशल मीडिया पर आपको इसके कई तरीके बताए जाते हैं। इनमें से कई फर्जी भी होते हैं। जिन्हें अपनाना नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसलिए लोगों तक सही जानकारी पहुंचाने के लिए भारत सरकार के आयुष मंत्रालय ने 10 तरीकों की सूची तैयार की है। इसमें बताया गया है कि बदलते मौसम और कोरोना संक्रमण के बीच इन दिनों आपको क्या करना चाहिए। कैसे अपनी और अपने परिवार की इम्युनिटी बढ़ानी चाहिए।

 

इस पूरे दस्तावेज को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने भी शेयर किया है। ताकि हर बच्चा और उसके पैरेंट्स इससे वाकिफ हो सकें। यहां हम आपको मंत्रालय द्वारा बताए गए वे सभी 10 तरीकों के बारे में बता रहे हैं।

 

इम्युनिटी बढ़ाने के तरीके

 

1. कोशिश करें कि दिनभर में जितनी बार भी पानी पीएं, उसे हल्का गर्म करके ही पीएं। खासतौर पर ठंडे पानी से फिलहाल परहेज करें। क्योंकि बदलते मौसम में ये आपको बीमार बना सकता है।

2. रोज कम से कम 30 मिनट का समय सिर्फ अपने लिए निकालें। इस बीच योगासन, प्राणायाम और ध्यान लगाएं। परिवार के साथ रहते हैं, तो घर के अन्य सदस्यों को भी ऐसा करने के लिए कहें। इससे तन और मन दोनों तंदुरुस्त होगा।

3. इन दिनों आप जो भी खाना खा रहे हों, कोशिश करें कि उसमें हल्दी, जीरा, धनिया और लहसुन का इस्तेमाल जरूर हो। ज्यादा तेल, बटर वाले खाने से परहेज करें।

4. च्यवनप्राश का एक डब्बा ले आएं। रोज सुबह उठकर फ्रेश होकर एक चम्मच (करीब 10 ग्राम) च्यवनप्राश जरूर खाएं। घर के हर सदस्य को रोजाना एक चम्मच च्यवनप्राश खाने के लिए दें।

5. दिन में कम से कम एक या दो बार हर्बल चाय / काढ़ा पीएं। यहां समझें कि काढ़ा कैसे बनाना है - पानी में में तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सूखी अदरक, मुनक्का मिलाकर अच्छी तरह धीमी आंच पर उबालें। स्वाद के अनुसार इसमें गुड़ या नींबू का रस मिला सकते हैं।

6. दिन में कम से कम एक या दो बार हल्दी वाला दूध पीएं। 

7. नैजल एप्लीकेशन : रोज सुबह और शाम नाक के दोनों छिद्रों में तिल का तेल या नारियल का तेल या घी लगाएं। ध्यान रहे इसकी मात्रा बहुत ज्यादा न हो।

8. ऑयल पुलिंग थेरेपी : एक बड़ी चम्मच तिल का तेल या नारियल का तेल मुंह में लें। ध्यान रहे इसे पीना / गटकना नहीं है। इसे दो से तीन मिनट के लिए मुंह में घुमाएं और फिर थूक दें। फिर हल्के गर्म पानी से कुल्ला कर लें। ये प्रक्रिया दिन में एक या दो बार की जा सकती है।

9. अगर गले में खरास या सूखा कफ है तो दिन में एक बार स्टीम ले सकते हैं। पुदीने की कुछ पत्तियां और अजवाइन को पानी में गर्म करके इसका स्टीम लें।

10. गुड़ या शहद के साथ लॉन्ग का पाउडर मिलाकर इसे दिन में दो से तीन बार खाएं। हालांकि अगर सूखा कफ या गले में खरास की समस्या लंबे समय तक रहती है, तो बेहतर होगा कि आप किसी डॉक्टर को दिखाएं।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT