Home School सीआईएससीई ने 10वीं-12वीं के सिलेबस में की 25% कटौती

सीआईएससीई ने 10वीं-12वीं के सिलेबस में की 25% कटौती

EduBeats

CISCE के 10वीं और 12वीं के छात्रों पर से अब सिलेबस का बोझ कम हो जाएगा। CISCE ने कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से पैदा हुई स्थिति के मद्देनजर छात्रों के शैक्षिक नुकसान की भरपाई करने का फैसला लिया है। मुख्य विषयों के सिलेबस में 25 फीसदी की कटौती होगी। एक आधिकारिक बयान में बोर्ड की ओर से कहा गया है, 'मौजूदा सत्र 2020-21 के दौरान पढ़ाई के घंटे में हुए नुकसान की भरपाई के लिए यह फैसला लिया गया है।'

 

बयान में कहा गया है, 'लॉकडाउन की वजह से पिछले तीन महीनों तक देश भर में स्कूल बंद रहे हैं। हालांकि सीआईएससीई से संबद्ध स्कूलों ने बदली हुई परिस्थिति के मुताबिक खुद को ढाला है और ऑनलाइन क्लासों के माध्यम से पढ़ने-पढ़ाने की प्रक्रिया को जारी रखने की कोशिश की है, लेकिन शैक्षिक साल की अवधि में काफी कमी हुई है और पढ़ाई के घंटे भी कम हुए हैं।'

 

सीआईएससीई ने कोविड-19 के बढ़ते हुए मामले को देखते हुए 10वीं और 12वीं की बची हुई परीक्षा को भी रद्द कर दिया है। छात्रों को अगली क्लास में प्रमोट करने के लिए एक पासिंग फॉर्म्युला अपनाया गया है। यह पासिंग फॉर्म्युला-बोर्ड एग्जाम में छात्रों के बेस्ट 3 पेपर मार्क्स का ऐवरेज, विषय का इंटर्नल असेसमेंट (क्लास 10)/प्रॉजेक्ट और प्रैक्टिकल वर्क एवं पर्सेंटेज सब्जेक्ट इंटर्नल असेसमेंट (आईसीएसई के लिए)/पर्सेंटेज सब्जेक्ट प्रॉजेक्ट और प्रैक्टिकल वर्क (आईएससी) के आधार पर तय होगा।

 

सीबीएसई की भी परीक्षा रद्द
नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में दंगे की वजह से उस क्षेत्र में 10वीं और 12वीं की परीक्षा प्रभावित हुई थी। बाकी लॉकडाउन की वजह से देश भर में 12वीं की परीक्षा स्थगित हुई थी। 10वीं की परीक्षा नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में होनी थी जबकि 12वीं की बाकी परीक्षाएं पूरे देश में। सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की यह परीक्षा 1 से 15 जुलाई, 2020 तक होनी थी लेकिन अब इसे भी रद्द कर दिया गया है। एक पासिंग फॉर्म्युला के आधार पर छात्रों का रिजल्ट तैयार किया जाएगा। आईसीएसई ने भी परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। सीटेट की परीक्षा 5 जुलाई को होनी थी। सीबीएसई ने उसे भी स्थगित करने का नोटिस जारी किया है। सीबीएसई ने भी मार्क्स कैलकुलेशन के लिए फॉर्म्युला जारी कर दिया है।
 

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT