Home News संतकबीर नगर: शिक्षक भर्ती में धांधली, माफियाओं से जुड़ रहे फर्जी शिक्षकों के तार

संतकबीर नगर: शिक्षक भर्ती में धांधली, माफियाओं से जुड़ रहे फर्जी शिक्षकों के तार

संतकबीर नगर 
शिक्षक भर्ती में हो रही धांधली के तार संतकबीर नगर से जुड़ते नजर आ रहे हैं। यहां के माफियाओं से अभी तक प्रदेश के दर्जनों फर्जी शिक्षकों के तार जुड़ने के संकेत मिले हैं। प्रशासन की तरफ से इसका निरीक्षण शुरू कर दिया गया है, जिसके चलते इस धांधली में लिप्त अधिकारी भी नप रहे हैं। पिछले दिनों एक शिक्षक दूसरे के नाम पर कार्य कर रहा था लेकिन जांच आरम्भ होने के उपरान्त वह अपना त्याग पत्र डाक के माध्यम से दे कर भाग गया। बात यहीं खत्म नहीं होती यहां के अधिकारी धांधली से संबन्धित करीब 250 फाइलों को पचा गए। शिक्षक भर्ती में हुए खेल से विभाग में अफरा-तफरी मच गई है।

 

बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षक भर्ती को लेकर हो रही धांधली के मुद्दे हमेशा ही चर्चा में रहते हैं। पूर्व जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डाइट में दो वर्ष पूर्व स्थानांतरण आदेश पर आया फर्जी लिपिक पहचान में आया था, जिसके बाद उस पर मुकदमा भी दर्ज हुआ था। बस्ती जिले के नाथनगर ब्लाक स्थित रैनिया में तैनात शिक्षक के नाम पर कार्य कर रहा व्यक्ति भी डाक से इस्तीफा भेजकर गायब हो गया था। मेंहदावल के करमैनी में तैनात रहे अभिषेक त्रिपाठी के नाम पर देवरिया जिले में नौकरी कर रहा शिक्षक बर्खास्त हुआ था। एक के बाद एक करके फर्जीवाड़े के कई मामले सामने आने के बाद एसटीएफ जांच से खुलासे की उम्मीद थी। हालांकि जांच अभी पांच विश्वविद्यालयों के डिग्री धारकों पर ही केंद्रित दिख रही है। इसमें अभी तक कोई नाम सामने नहीं आया है।

 

इस मामले पर और जानकारी के लिए जब एजुकेशन बीट्स की रिपोर्टर ने संतकबीर नगर के बीएसए सत्येंद्र कुमार से बात की तो उन्होंने मामले से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि उन्हें इस विषय की कोई जानकारी नहीं है।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT