Home Others देशभर से मिला #Deep4School को समर्थन, लोगों ने सरकारी स्कूलों में जलाया 'शिक्षा ने नाम दिया'

देशभर से मिला #Deep4School को समर्थन, लोगों ने सरकारी स्कूलों में जलाया 'शिक्षा ने नाम दिया'

EduBeats

लखनऊ

एजुकेशन बीट्स की खास मुहिम #Deep4School के तहत देशभर के लोगों ने सरकारी स्कूलों में दीये जलाए। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से इस अभियान की शुरुआत हुई। सबसे पहले बाल महिला सेवा संगठन ने धनतेरस के मौके पर गाजीपुर बलराम के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सामूहिक रूप से दीपक जलाए। इसके बाद छोटी दिवाली से लेकर भैया दूज तक लोगों ने स्कूलों में दिये जलाकर एजुकेशन बीट्स की मुहिम का समर्थन किया। 

 

राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार विजेता डॉ स्नेहिल पाण्डेय ने उन्नाव जिले के सोहरामऊ प्राथमिक विद्यालय में दीप जलाकर एजुकेशन बीट्स की मुहिम का समर्थन किया। इसके अलावा एजुकेशन बीट्स की एडिशन दिव्या गौरव त्रिपाठी ने लखनऊ के पल्टन स्थित प्राथमिक स्कूल में शिक्षा के नाम का दिया जलाया। वहीं हरदा के शासकीय नगरपालिका अंग्रेजी माध्यम मिडिल स्कूल में मुकेश मुरलिया ने, हरदोई के पिहानी में शिवानी बाजपेई ने, लखनऊ में विक्रम मिश्रा, एजुकेशन बीट्स की सीनियर रिपोर्टर निमिषा बाजपेई, हरदोई में सार्थक, शशिकांत, पवन, रवि, श्लोक, मयंक, अतुल प्रजापति, अंबुज, हिमांशु, राजू, सूरज, संचित, और सतीश ने भी सरकारी स्कूलों में जाकर दीपक जलाए। 

 

राजस्थान के कोटा से राष्ट्रीय गौरक्षा आंदोलन समिति के प्रांत सह संयोजक लोकेश तिवारी ने सरकारी स्कूल में दिया जलाया। हरदोई के बिजगवां में नितिन सिंह ने शिक्षा के नाम का दीप जलाया। वहीं लखनऊ के बख्शी का तालाब स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय गोयला में प्रधानाचार्य सुरेश जयसवाल ने अपने विद्यालय को पूरी तरह से दीपों से रोशन कर दिया। लखनऊ से आस्था पांडेय ने भी शिक्षा के नाम का दीप जलाया। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में राकेश, मिशा, निहारिका, काव्या, मुकेश, दीपक ने भी सरकारी स्कूलों में जाकर दीपक जलाए। मेरठ से अशोक, गौरव, आशा, प्रकाश ने सरकारी स्कूलों में जाकर दीप जलाए। कानपुर से निशान्त, प्रान्जल, भुवनेश्वरी, यश, दीपिका, अल्का ने सरकारी स्कूलों में जाकर दीप जलाए। बोकारो से दीपशिखा, कमल, क्षितिज, श्लोक, अक्षत, रोशनी, मीना ने सरकारी स्कूलों में जाकर दीप जलाए। पुणे से दीपेन्द्र, राज, अतुल, सपना, गीतांजलि, किरन ने सरकारी स्कूलों में जाकर दीप जलाए। सीतापुर से ऊषा, रमाकान्त, कौशल, निखिल, राजवर्धन, बिन्दु, सुषमा ने सरकारी स्कूलों में जाकर दीप जलाए।

 

शिक्षा बन रही व्यवसाय: दिव्या गौरव त्रिपाठी
एजुकेशन बीट्स की एडिटर दिव्या गौरव त्रिपाठी ने कहा कि इस मुहिम के तहत हम चाहते हैं कि लोगों की सरकारी स्कूलों को लेकर सोच बदले। उन्होंने कहा, 'एजुकेशन बीट्स का लक्ष्य है कि सरकारी स्कूलों के लिए लोगों के मन में यह भाव आए कि यह स्कूल उनका अपना है। साथ ही वे इन स्कूलों को लेकर अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए अपने बच्चों को इन स्कूलों में पढ़ाने से न झिझकें।' दिव्या ने कहा कि एक समय था, जब भारत विश्व गुरु था। हमें समझना पड़ेगा कि भारत विश्वगुरु इसलिए था क्योंकि भारत में शिक्षा दान की विशाल परंपरा थी। आज शिक्षा व्यवसाय बन गई है। यह बहुत खतरनाक है। हम एजुकेशन बीट्स के माध्यम से शिक्षा के व्यवसायीकरण को रोकने की कोशिश में लगे हैं। 

 

लोगों ने समर्थन से भाव विभोर हुए हम: उत्कर्ष बाजपेई
एजुकेशन बीट्स की पैरंट कंपनी ब्लू बर्ड्स के डायरेक्टर उत्कर्ष बाजपेई ने कहा कि इस मुहिम में देशभर के लोगों का जिस तरह से समर्थन मिला है, उससे वाकई हम भाव विभोर हैं। उन्होंने कहा, 'लोगों का यह समर्थन बताता है कि एजुकेशन बीट्स जल्द शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाएगा।'

 

भ्रष्टाचार की सूचना एजुकेशन बीट्स को दें: निमिषा बाजपेई
एजुकेशन बीट्स के बारे में बताते हुए रिपोर्टर निमिषा बाजपेई ने लोगों से भष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करने की अपील की। उन्होंने कहा, 'आज सरकारी स्कूलों की हालत बहुत खराब है, और उससे भी ज्यादा खराब है आम लोगों की सोच। हम आप सभी से अपील करते हैं कि शिक्षा के क्षेत्र में कहीं भी भ्रष्टाचार देखें तो हमारे हेल्पलाइन नंबर 8874444035 पर वॉट्सऐप करें। कहीं सरकारी स्कूलों में व्यवस्थाओं की कमी हो तो हमें बताएं, किसी प्राइवेट स्कूल में फर्जी की वसूली हो रही हो तो हमें मैसेज करें। आप सभी के सहयोग से हम बड़ा बदलाव ला पाएंगे।' 


 

अड्डेबाजी

छपास प्रेमी

छपास प्रेमी

तस्वीरों में देखिए

सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक