Home Interview माता-पिता निकालें बच्चों के लिए समय, नहीं जाएंगे गलत रास्तों पर बच्चे: वंदना गुप्ता

माता-पिता निकालें बच्चों के लिए समय, नहीं जाएंगे गलत रास्तों पर बच्चे: वंदना गुप्ता

EduBeats

बड़ौत/लखनऊ

एजुकेशन बीट्स अपनी खास सीरीज "एक मुलाकात" में ऐसे लोगों के बारे में बताता आ रहा है जो समाज को अपने सकारात्मक कार्यों से एक बेहतर दिशा दे रहे हैं। और इसी के साथ ही साथ कोरोना जैसे मुश्किल वक्त में लोगों का हौसला बनाए हुए हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसी ही शख्सियत के बारे में बताएंगे जो लगातार अपने प्रयासों से गरीब लोगों के जीवन में खुशी के दीप जला रही हैं.... और कोरोना काल में लोगों की उनके खाने और कपड़े से लेकर और भी कई सारी मदद कर रही हैं। हम बात कर रहे हैं बड़ौत की रहने वाली वंदना गुप्ता की जो सारथी वेलफेयर फाउंडेशन की अध्यक्ष हैं। कोरोना महामारी के दौरान वंदना ने अपनी संस्था के माध्यम से जरूरतमंदों के भोजन,राशन,मास्क, सैनिटाइजर,कोरोना किट से लेकर सब्जियों का वितरण करके सभी की मदद की हैं। यह पशुओं से लेकर इंसानो तक की सेवा करती हैं।

 

महिलाओं को लेकर के वंदना कहती हैं कि सोच बदलो समाज खुद बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि लड़कियों को खुलकर जीना चाहिए... और उनके साथ घर से लेकर बाहर तक जो भी घटना घटित हो उसे अपनी मां, बहन या दोस्त किसी से जिसे वह अपना अच्छा दोस्त मानती हों जरूर शेयर करें... ऐसा करने से कभी उनके साथ कुछ गलत नहीं हो सकता। वंदना बताती हैं कि अभी उनकी संस्था की टीम बहुत बड़ी नहीं हैं लेकिन वह अपनी छोटी सी टीम के साथ मिलकर ही गरीब लोगों की सेवा करती हैं। शिक्षा को लेकर वंदना का कहना है कि भविष्य में मेरी योजना है कि सारथी वेलफेयर फाउंडेशन के माध्यम से उन गरीब बच्चों को फ्री शिक्षा दी जाएगी जिनके मां- बाप नहीं हैं या कुछ ऐसे बच्चे जो पढ़ना तो चाहते हैं लेकिन उनके पास पैसे नहीं है.... तो ऐसे बच्चों को हमारी संस्था फ्री शिक्षा दिलाएगी।

 

सारथी वेलफेयर फाउंडेशन की अध्यक्ष वंदना गुप्ता बताती हैं कि आज के समय में अधिकतर मां- बाप अपने बच्चों को समय नहीं देते जिसका सबसे सीधा प्रभाव उनके बच्चों पर पड़ता है और बच्चे अकेलापन महसूस करते-करते वह गलत रास्तों पर निकल जाते हैं, इसलिए सबसे पहले माता-पिता को चाहिए कि वह कितने ही व्यस्त क्यों न हो लेकिन बच्चों को पूरा समय दें। इससे बच्चें गलत रास्तों का चुनाव कभी नहीं करेगें....  इसी के साथ एजुकेशन बीट्स से खास बातचीत में वंदना ने और भी कई खास बातें कीं.... देखिए

 


अड्डेबाजी

छपास प्रेमी

छपास प्रेमी

तस्वीरों में देखिए

UP में एक साल बाद खुले प्राथमिक विद्यालय, फूल और गुब्बारों से सजे स्कूलों में हुआ बच्चों का स्वागत
UP में एक साल बाद खुले प्राथमिक विद्यालय, फूल और गुब्बारों से सजे स्कूलों में हुआ बच्चों का स्वागत
उत्तराखंड संस्कृत विवि में तीन दिवसीय पुस्तक प्रर्दशनी का उद्घाटन
उत्तराखंड संस्कृत विवि में तीन दिवसीय पुस्तक प्रर्दशनी का उद्घाटन
पौधारोपरण कर मनाया गया गणतंत्र दिवस, देखें फैजुल्लागंज सरकारी स्कूल की खास तस्वीरें
पौधारोपरण कर मनाया गया गणतंत्र दिवस, देखें फैजुल्लागंज सरकारी स्कूल की खास तस्वीरें
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व