Home Experts-column आईटी सिक्‍योरिटी प्रोफेशनल: इंटरनेट के जानकार हैं तो करें यह कोर्स, कई कम्पनियों में मिलेंगे मौके

आईटी सिक्‍योरिटी प्रोफेशनल: इंटरनेट के जानकार हैं तो करें यह कोर्स, कई कम्पनियों में मिलेंगे मौके

EduBeats

एथिकल हैकर एक तरह से आईटी सिक्‍योरिटी प्रोफेशनल होता है। इसमें वह सभी खूबियां होती हैं जो एक हैकर में होती है लेकिन इन खूबियों का इस्‍तेमाल कम्‍प्‍यूटर व साइबर वर्ल्‍ड में सुरक्षात्‍मक उद्देश्‍यों के लिए करते हैं । हैकिंग का यह एक ऐसा रूप है जिसकी मदद से सरकार या खुफिया एजेंसियां किसी  भी एकाउंट को हैक कर वहां से गोपनीय जानकारी इकट्ठा करती हैं , इससे उन्हें अपनी जांच को आगे बढ़ाने या सबूत जुटाने में मदद मिलती है। इसे देखते हुए एथिकल हैंकिंग जैसा कोर्स करियर के लिहाज से काफी अहम है। वाई-फाई इंटरनेट कनेक्शन से चलने वाले सिस्टम को हैक करना ज्यादा आसान होता है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कंप्यूटर में घुसपैठ की बढ़ती समस्या से निपटने के लिए एथिकल हैकर्स का नया कोर्स करियर के तौर पर एक बेहतरीन मौका बनकर सामने आया है।

 

हर कंपनी चाहती है एक एथिकल हैकर 

यह कोर्स नया है, इसके विषय में लोगों को जानकारी अभी बहुत कम है। इस वजह से यह क्षेत्र बहुत रोचक है। इसके विशेषज्ञों की मांग लगातार बढ़ रही है। जैसे-जैसे लोगों की निर्भरता इंटरनेट पर बढ़ती जा रही है, नेटवर्क सिक्योरिटी एक चुनौती बनती जा रही है। इस लिहाज से आने वाले दिनों में एथिकल हैंकर्स की मांग उम्मीद से कहीं ज्यादा होगी। हर एक कंपनी अपने आंकड़ों को सुरक्षित रखने या प्रतिद्वंद्वी कंपनी की रणनीति को समझने के लिए एथिकल हैकर्स रखने लगेंगी।


 

क्या है एथिकल हैकर्स में खास 

एथिकल हैकर एक ऐसा व्यक्ति है जो कानूनी तौर पर हैकिंग से बचने के लिए अपने कंप्यूटर को चुस्त बनाता है। ऐसे लोगों को क्रिमिनल की तरह सोचने की क्षमता होनी चाहिए ताकि अपराधियों के दिमाग को समझा जा सके और किसी संभावित अटैक से सिस्टम को बचाया जा सके। एथिकल हैकर को कंप्यूटर के टूल्स और तकनीक का गहन ज्ञान होना चाहिए। इस क्षेत्र में कामयाबी के लिए हैकर को कंप्यूटर की गहरी जानकारी के अलावा इंटरनेट की बारीकियों से भी अवगत होना जरूरी है। साइबर क्राइम और एथिकल हैकिंग के बारे में अपडेट रहने से भी हैकर को काफी मदद मिलती है। ईमेल ट्रेस करना, नेटवर्क हैक करना, इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी की छानबीन और फायरवॉल को उड़ाने का बेसिक ज्ञान हैकर्स के लिए जरुरी है।


 

मिलेंगी इंटरनेट से सम्बंधित सभी जानकारियां 

एथिकल हैकिंग कोर्स में इंटरनेट से संबंधित बहुत सी छोटी से छोटी जानकारी के बारे में सिखाया जाता है। सिक्योरिटी टेस्टिंग की कार्य प्रणाली, ऑफेसिंग स्निफिंग, प्रीविलेज एस्कलेटिंग, हैकिंग, अटैकिंग नेटवर्क वर्क सिस्टम, हैकिंग वेब ऐप्लिकेशन, क्रॉस साइट स्क्रिप्टिंग, ब्रेकिंग आईपी, सिस्टम हैकिंग पासवर्ड क्रैकिंग, पैनेट्रेशन टेस्टिंग हैकिंग वेबसर्विस वायरस ऐंड वर्म आदि से संबंधित जानकारी इस कोर्स में दी जाती है।

 

भारत में यह कोर्स बहुत कम संस्थाओं द्वारा संचालित किया जाता है और जो संस्थाएं एथिकल हैकिंग का कोर्स करवाती है , वहां से एथिकल हैकिंग में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा किया जा सकता है। इसके लिए ग्रैजुएट होना जरूरी है। आज के समय में केवल कंप्यूटर के एक्सपर्ट ही ऐसे कोर्स कर रहे हैं जिसके कारण एथिकल हैकर्स की काफी कमी है। सरकारी खुफिया विभाग या अन्य विभाग के लोग भी इस कोर्स को कर रहे हैं। विदेश में यह कोर्स इंटरनेट के जानकार अनिवार्य रूप से कर रहे हैं।

 

इंटरनेशनल डेटा कॉर्प की एक रिपोर्ट के अनुसार पूरे विश्व में इन्फर्मेशन सिक्योरिटी प्रफेशनल्स की मांग आने वाले वर्षों में तेजी से बढ़ेगी। इस बढ़ी हुई जरूरत के कारण ही बड़ी-बड़ी आईटी और कम्यूनिकेशन कंपनियां तक एथिकल हैकर्स की नियुक्ति को प्राथमिकता दे रही है। आईटी और कंप्यूटर से जुड़ी कंपनियों के अलावा अन्य कंपनियों में भी साइबर स्पेस की सुरक्षा के लिए एथिकल हैकर्स की मांग बढ़ी है।

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT