Home College UP के निजी पालीटेक्निक संस्थान नहीं कर पाएंगे मनमानी, वेबसाइट पर फीस दर्शाने का आदेश हुआ जारी

UP के निजी पालीटेक्निक संस्थान नहीं कर पाएंगे मनमानी, वेबसाइट पर फीस दर्शाने का आदेश हुआ जारी

EduBeats

तकनीकी शिक्षा के नाम विद्यार्थियों से मनमानी फीस की वसूली की जा रही है। प्राविधिक शिक्षामंत्री जितिन प्रसाद ने इसको रोकने के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। मंत्री के निर्देश के बाद प्राविधिक शिक्षा निदेशक मनोज कुमार ने फीस नियमन समिति की ओर से निर्धारित फीस को संस्थानों को अपनी वेबसाइट पर दर्शाने का आदेश जारी किया है। सरकारी,सहायता प्राप्त व निजी संस्थानों को अपनी वेबसाइट पर फीस प्रदर्शित करनी होगी। ऐसा न होने पर उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने कहा कि किसी भी छात्र-छात्रा को फीस सम्बंधी कोई भी समस्या हो तो अपनी शिकायत संबंधित संस्थान की वेबसाइट पर दर्ज करा सकते हैं। दर्ज समस्या का त्वरित निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाएगा। शुल्क संबंधी कोई शिकायत विभाग की यूराइज-पोर्टल-वेबसाइट https://urise.up.gov.in पर की जा सकती है।

 

किसकी कितनी वार्षिक फीस

-राजकीय पालीटेक्निक-10,370 रुपये
-अनुदानित पालीटेक्निक-19,000 रुपये
-निजी पालीटेक्निक- 30,000 रुपये
-निजी फार्मेसी संस्थान-45,000 रुपये
अधिक फीस पर करें शिकायत
टोलफ्री नंबर-18001806589
कंट्रोल रूम के नंबर- 0522-2630678 और 0522-2630667 

 

रद्द होगी मान्यता:

संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद के प्रभारी सचिव राम रतन ने बताया कि सभी निजी पालीटेक्निक और फार्मेसी संस्थानों को निर्धारित फीस से अधिक फीस न लेने की हिदायत दी है। यही नहीं परिषद की ओर से शिकायत मिलने पर कार्रवाई के साथ ही मान्यता रद्द करने की चेतावनी भी दी गई है।

 

काउंसिलिंग 25 तक: संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद ने पहली काउंसिलिंग से लेकर 10वीं काउंसिलिंग में हिस्सा लेने वाले प्रवेश से वंचित प्रदेश के अभ्यर्थियों को प्रवेश का अंतिम अवसर देेने का निर्णय लिया है। 25 नवंबर तक अभ्यर्थी विकल्प भर सकेंगे। 26 को परिणाम घोषित होगा। 30 नवंबर तक प्रवेश प्रक्रिया पूरी करने की तैयारी है। संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद की वेबसाइट jeecup.nic.in पर अपलोड कर दी जाएगी।


अड्डेबाजी

छपास प्रेमी

छपास प्रेमी

तस्वीरों में देखिए

UP में एक साल बाद खुले प्राथमिक विद्यालय, फूल और गुब्बारों से सजे स्कूलों में हुआ बच्चों का स्वागत
UP में एक साल बाद खुले प्राथमिक विद्यालय, फूल और गुब्बारों से सजे स्कूलों में हुआ बच्चों का स्वागत
उत्तराखंड संस्कृत विवि में तीन दिवसीय पुस्तक प्रर्दशनी का उद्घाटन
उत्तराखंड संस्कृत विवि में तीन दिवसीय पुस्तक प्रर्दशनी का उद्घाटन
पौधारोपरण कर मनाया गया गणतंत्र दिवस, देखें फैजुल्लागंज सरकारी स्कूल की खास तस्वीरें
पौधारोपरण कर मनाया गया गणतंत्र दिवस, देखें फैजुल्लागंज सरकारी स्कूल की खास तस्वीरें
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व