Home College ओडिशा के शैक्षिक संस्थानों में लगातार की जाएगी कोरोना की जांच

ओडिशा के शैक्षिक संस्थानों में लगातार की जाएगी कोरोना की जांच

EduBeats

भुवनेश्वर
ओडिशा सरकार ने मंगलवार को कहा कि स्कूलों और कॉलेजों के खुलने के बाद कोविड -19 की राज्यभर के शैक्षणिक संस्थानों में लगातार जांच की जाएगी। यहां मुख्य सचिव सुरेश चंद्र मोहापात्र ने समीक्षा बैठक में भाग लेते हुए स्वास्थ्य विभाग से महामारी के संभावित विराम के खिलाफ निवारक के रूप में शैक्षणिक संस्थानों और छात्रावासों में स्वास्थ्य जांच करने को कहा।

 

राज्य में 10 वीं और 12 वीं के स्कूल 8 जनवरी को फिर से खुलेंगे और कॉलेज और विश्वविद्यालय 11 जनवरी को फिर से खोले जाएंगे। शैक्षिक संस्थानों के प्रमुख को स्थानीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और डॉक्टरों के साथ लगातार संपर्क में रहने और तुरंत किसी भी संदिग्ध मामले की रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

 

मोहापात्रा ने कहा, ‘अब हम कई सामान्य गतिविधियों, स्कूलों, कॉलेजों और हॉस्टलों को खोल रहे हैं, हमें कोविड प्रतिबंधों के बीच परियोजनाओं के त्वरित कार्यान्वयन पर अधिक ध्यान केंद्रित करना होगा। हमें टीकाकरण के लिए भी तैयार होना होगा।’

 

अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) प्रदीप कुमार मोहापात्र ने आश्वासन दिया कि स्वास्थ्य कर्मी स्वास्थ्य जांच के लिए नियमित रूप से शैक्षणिक संस्थानों का दौरा करेंगे। स्कूल और शिक्षा मंत्री समीर रंजन दाश ने कहा कि स्कूल के छात्रों को पाठ्यक्रम की कमी नहीं होगी। इससे पहले, विभाग ने सिलेबस में 30 प्रतिशत की कमी की घोषणा की थी। सरकार ने फैसला किया है कि 10 वीं और 12 वीं के छात्रों के लिए परीक्षा से पहले 100 दिनों के लिए कक्षाएं आयोजित की जाएंगी।

 

8 जनवरी से 26 अप्रैल तक कक्षा 10 वीं के छात्रों के लिए कक्षाएं आयोजित की जाएंगी और कक्षा 12 के छात्र 8 जनवरी से 28 अप्रैल तक अपनी कक्षाओं में भाग लेंगे। बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन 3 मई से 15 मई तक हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षाएं आयोजित करेगा। काउंसिल ऑफ हायर सेकेंडरी एजुकेशन 12 वीं की परीक्षाएं 15 मई से 11 जून के बीच आयोजित करेगा।
आईएएनएस

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

PHOTO GALLERY

सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक