Home College ओडिशा में 11 जनवरी से खुलेंगे कॉलेज और यूनिवर्सिटी

ओडिशा में 11 जनवरी से खुलेंगे कॉलेज और यूनिवर्सिटी

EduBeats

भुवनेश्वर
ओडिशा सरकार ने रविवार को घोषणा की है कि राज्य में 11 जनवरी से कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए कक्षाएं फिर से शुरू हो जाएंगी। उच्चतर शिक्षा विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, यूजी/पीजी पाठ्यक्रमों के छात्रों के लिए अनंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं 16 मार्च से 31 मार्च के बीच होंगी और अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं 16 जून से 30 जून के बीच होंगी।

 

सरकार ने राज्य में कोविड-19 की स्थिति में सुधार और महामारी के कारण छात्रों की भारी शैक्षणिक हानि को देखते हुए कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को फिर से खोलने का फैसला किया। महामारी के फैलने के बाद मार्च 2020 से ही कक्षाएं निलंबित हैं। अधिसूचना में कहा गया है, ‘राज्य के सरकारी विश्वविद्यालयों और सरकारी तथा गैर-सरकारी डिग्री कॉलेजों (एचई विभाग के तहत आने वाले) को 11-01-2021 (सोमवार) से 2020-21 अंतिम वर्ष के यूजी/पीजी पाठ्यक्रमों के छात्रों के लिए प्रत्यक्ष कक्षा शिक्षण शुरू करने का निर्देश दिया जाता है।’

 

सरकार ने कक्षा शिक्षण के संचालन के लिए एक दिशानिर्देश भी जारी किया है, जिसमें नियमित तौर पर कक्षाएं आयोजित करने और पाठ्यक्रम के सभी अध्यायों को कवर करने की बात कही गई है। उसमें कहा गया कि भले ही कुछ अध्याय ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान कवर किए गए हों, इसके बावजूद कक्षा में सभी अध्यायों को पढ़ाया जाना चाहिए। दिशानिर्देश में कहा गया, ‘जब भी संभव हो, कक्षा शिक्षण को रिकॉर्ड किया जाए और अनुपस्थित छात्रों के साथ उसे साझा किया जाए।’

 

उसमें कहा गया है कि इस दौरान कोविड-19 रोकथाम संबंधी दिशानिर्देशों का पूरी तरह से पालन किया जाना चाहिए। दिशानिर्देश में कहा गया है कि कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में आने वाले छात्रों समेत सभी व्यक्तियों के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य है। उसमें कहा गया है कि कक्षाओं में शारीरिक दूरी को बनाए रखा जाना चाहिए और अगर जरूरत पड़ी तो छात्रों की अधिक संख्या वाली कक्षाओं को बैचों में बांटा जा सकता है और शिक्षण घंटे बढ़ाए जा सकते हैं।

 

अधिसूचना के अनुसार, राज्य में 10 जनवरी से 2020-21 अंतिम वर्ष के यूजी/पीजी छात्रों के साथ-साथ पीएचडी, एम.फिल और अन्य शोधार्थियों के लिए छात्रावास खोले जाएंगे। उसमें यह भी कहा गया है कि पीएचडी, एम.फिल छात्रों और अन्य शोध छात्रों की शिक्षण और अनुसंधान गतिविधियाँ भी 11 जनवरी से शुरू होंगी। राज्य के निजी विश्वविद्यालय भी 11 जनवरी से अंतिम वर्ष के यूजी/पीजी पाठ्यक्रमों की कक्षा शिक्षण शुरू करने पर विचार कर सकते हैं।
भाषा

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

PHOTO GALLERY

सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय ने राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाई श्रीनिवास रामानुजन की जंयती
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
यूपी के पहले डीआईजी सिराजुद्दीन अहमद के बेटे ने लविवि को सौंपी उनकी 100 साल पुरानी डिग्रियां
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
संस्कृत विश्वविद्यालय में यूं मनाया गया गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
पठानकोट: NSUIके जिलाध्यक्ष बनाए गए अभयम शर्मा, काफिले की भीड़ देख उड़ जाएंगे होश
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
वाह दुर्गेश! लविवि का शताब्दी वर्ष, 100 परिवारों के बच्चों को बांटी कॉपी किताबें और खुशियां
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक
दिवाली पर रोशन हुए सरकारी स्कूल, शिक्षकों संग बच्चों ने बनाई रंगोली और जलाए दीपक