Home College सीबीएसई-सीआईएससीई के बाद अब यूपी बोर्ड का भी पाठ्यक्रम हुआ कम, तीन भागों में पूरा होगा बचा हुआ पाठ्यक्रम

सीबीएसई-सीआईएससीई के बाद अब यूपी बोर्ड का भी पाठ्यक्रम हुआ कम, तीन भागों में पूरा होगा बचा हुआ पाठ्यक्रम

EduBeats

लखनऊ
अब यूपी बोर्ड के 9वीं से 12वीं तक में पहले की आपेक्षा 70 प्रतिशत कम पाठ्यक्रम तीन भाग में पढ़ाया जाएगा। कक्षाएं सुचारू रूप से न हो पाने के कारण माध्यमिक शिक्षा परिषद ने शासन के पाठ्यक्रम कम करने का प्रस्ताव भेजा था। जिस पर शासन ने अपनी मुहर लगाते हुए पाट्यक्रम को 30 प्रतिशत कम कर दिया।

 

शैक्षिक सत्र 2020-21 कोविड19 के चलते अभी तक शुरू नहीं हो पाया है। 15 जुलाई से ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने का आदेश शासन ने दे रखा हैं। बहुत से कॉलेज एवं विद्यार्थी संसाधनों की कमी के कारण ऑ तिसके चलते नलाइन पढ़ाई का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं जिसके चलते  पाठ्यक्रम कम करने पर विचार किया जा रहा था। 

 

उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि शेष 70 प्रतिशत पाठ्यक्रम को तीन भागों में बांटकर पूरा कराया जाएगा। पहले भाग में पाठ्यक्रम का वह भाग लिया जाएगा जिसे कक्षावार, विषयवार और अध्यायवार वीडियो बनाकर ऑनलाइन पढ़ाया गया है। उनको स्वयंप्रभा चैनल व डीडी यूपी से भी प्रसारित किया गया है।

 

दूसरे भाग में वह पाठ्यक्रम शामिल किया जाएगा जिसे विद्यार्थी स्वयं पढ़कर पूरा कर सकते हैं। तीसरे भाग में पाठ्यक्रम का वह होगा जिसे प्रोजेक्ट के जरिये पूरा कराया जा सकता है। पाठ्यक्रम कम होने से 1 करोड़ 10 लाख से अधिक विद्यार्थियों को राहत मिलेगी। 


उप मुख्यमंत्री ने बताया कि विषय विशेषज्ञों द्वारा शैक्षिक पंचांग के अनुसार माहवार वार्षिक एकेडमिक कैलेंडर बनाया जाएगा। इसके अनुसार पढ़ाई व मूल्यांकन की विद्यालय, जिला, मंडल और राज्यवार मॉनिटरिंग की जाएगी। इसके लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर भी तैयार किया जाएगा। विषय विशेषज्ञों से कक्षावार, अध्यायवार और विषयवार प्रश्न बैंक तैयार कराकर माध्यमिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। उसका मासिक, त्रैमासिक व वार्षिक मूल्यांकन किया जाएगा। 

 

सीबीएसई-सीआईएससीई ने भी कम किया है पाठ्यक्रम 

इससे पहले सीबीएसई व सीआईएससीई ने भी 30 फीसदी तक अपना सिलेबस कम किया है। दोनों बोर्ड ने अपना नया सिलेबस भी जारी कर दिया है।
 

RELATED NEWS

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT